आंवला (या आमला) एक ऐसा फल है जो पोषण से भरपूर है और शरीर के लगभग सभी हिस्सों के लिए लाभदायक है। आयुर्वेदिक औषधों में आंवला को बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। इसे आप कच्चा, पाउडर करके,  सुखाकर, जूस बनाकर या अचार बनाकर खा सकते हैं। कोई भी रूप में सेवन कीजिए, इसके फ़ायदे अनेक हैं।

  • आंवला विटामिन सी में उच्च होता है (संत्रे से २० गुना अधिक),इसीलिए यह त्वचा और बालों के लिए सूपरफ़ूड माना जाता है
  • आंवला जूस पीने से आखों की सेहत भी बनी रहती है और सर्दी ख़ासी से भी दूर रहने में मदद मिलती है
  • इसमें amino acids  और प्रोटीन है जो बालों को जड़ों से मज़बूत करते हैं ।
  • विटामिन सी के साथ, इसमें विटामिन ई की मात्रा भी अधिक होती है। दोनों विटामिन त्वचा कोशिकाओं को पुनर्जीवित करने में मदद करते हैं जो बदले में बुढ़ापे (ageing) की प्रक्रिया को धीमा कर देते हैं।
  • आंवला एंटी-ऑक्सीडेंट से भपुर है इसिसलिये यह इम्यूनिटी बूस्ट (प्रतिरक्षा बढ़ाने) में मदद करता है।
  • आंवला में आइअर्न, कैल्सीयम और फ़ोस्फूरूस अधिक मात्रा में होता है इसीलिए यह शरीर और हड्डियों को मज़बूत रखता है।
  • इसमें अधिक मात्रा में फ़ाइबर है जो स्वस्थ पाचन में मदद करता है और आंत की सेहत (gut health ) भी बनाए रखता है
  • नियमित रूप से आंवला खाने से ब्लड शुगर (diabetes / डाइअबीटीज़ ), ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रोल कंट्रोल में रहता है
  • आंवला का जूस चेहरे पे लगाने से rahses और धब्बे काम हो जाते हैं और चहरा साफ़ लगने लगता है।

इतने पौष्टिक फल से वंचित ना रहिए। आंवला को अपने जीवन का हिस्सा बनाइए और बीमारियों से दूर रहिए।